भाजपा सरकार मे सुरक्षित नहीं आदिवासी समाज- जीतेन्द्र इवने युवा आदिवासी विकास संगठन बैतूल

Updated: Jul 19



Photography and Image Editing:- Gondwana Production


देवास जिले के थाना क्षेत्र नेमावर मे गरीब आदिवासी परिवार के 5 सदस्यों की बेहरहमी से हत्या कर उनकी लाशों को 10 फिट गहरे गड्ढे में गाड़ दिया गया।

जिसको लेकर युवा आदिवासी विकास संगठन बैतूल के जिला कार्यवाह अध्यक्ष जीतेन्द्र सिंग इवने के नेतृत्व में माननीय मुख्यमंत्री के नाम कलेक्टर बैतूल को ज्ञापन सौंपा एवं हत्यारों को फास्ट्रेक कोड के माध्यम से अविलंब फासी दिलाये जाने की मांग की।

श्री इवने ने कहा कि देवास जिले के थाना क्षेत्र नेमावर में एक गरीब आदिवासी परिवार के सदस्यों के जघन्य हत्याकांड से रूह काप गई है।

यह हत्याकांड एक गरीब आदिवासी परिवार के पाँच लोगो के साथ हुआ है इस हत्याकांड में वह लोग भी शामिल है जो किसी पार्टी विशेष से जुड़े हुए लोग है, अभी तक हत्याकांड मे शामिल कुछ लोग बेखोप घुम रहे है। प्रदेश मे आदिवासीयो पर बर्बता की हदे पार हो रही है। आदिवासीयों के प्रति नफरत घृणा किस कदर बड़ी है इस हत्याकांड से जाहिर होता है। पुलिस प्रशासन एवं शिवराज सरकार आदिवासीयो के प्रति कितना संवेदनशील है इसकी पोल इस घटना से ही पता चल गई है। हाल ही में शिवपुरी की एक घटना मे राज्यमंत्री के रिश्तेदार ने एक आदिवासी परिवार के साथ पानी के विवाद में बर्बता पुर्ण मारपीट की,मप्र.के धार जिले में पिछले एक साल के दौरान पुलिस प्रशासन ने आदिवासीयो के उपर फर्जी मुकदमे और गाँव के वरिष्ठ पटेल के खिलाफ अभद्रता और मारपीट की है। यह आदिवासीयो के प्रति नफरत है जिसका पुरे प्रदेश के आदिवासी विरोध करते है। और आदिवासी संघठनो व समाज मे इन घटनाओं के कारण रोष्ठ व्याप्त है। आदिवासी के प्रति नफरत और घृणा करने वालो के हौसले बुलंदी पर है। अतः माननीय राज्यपाल महोदयजी से मांग की है की उक्त घटना के सभी आरोपी के साथ दण्डात्मक कार्यवाही करते हुए फास्ट्रैक कोर्ट के तहत सभी अपराधीयों को अविलंब फासी की सजा सुनाई जावे।

ज्ञापन देते समय मुख्य रूप से युवा आदिवासी विकास संगठन के कार्यवाह अध्यक्ष जीतेन्द्र सिंग इवने, जिला महामंत्री चिंटू ठाकुर, शिवराज वरकड़े,अजय परते, आदि लोग उपस्थित थे।


30 views0 comments