*प्रधानमंत्री आवास योजना मे आदिवासीयों के साथ भेद भाव न करें सरकार- जयस*



*प्रधानमंत्री आवास योजना मे आदिवासीयों के साथ भेद भाव न करें सरकार- जयस*

बैतूल :- जयस संगठन बैतूल ने राज्यपाल महोदय के नाम आज ज्ञापन दिया, संगठन के जिला अध्यक्ष संदीप कुमार धुर्वे ने बताया की आदिवासीयों के संरक्षण की जिम्मेदारी राज्य के राज्यपाल की है, तब भी सरकार आदिवासीयों के साथ प्रधानमंत्री आवाज योजना मे भेद भाव कर रही है, कारण स्पष्ट करते हुए जयस संगठन के जिला कार्यवाह अध्यक्ष सुनील करोचे ने बताया की ग्रामीण अंचल मे प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ तो मिल रहा मगर सिर्फ 1.5 लाख रूपये उसमे से भी बिचौलीये खा जा रहे है, और आदिवासी ग्रामीण अंचलो मे ज्यादा निवास करता है, वही शहरी क्षेत्र मे प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए 2.5 लाख रूपये मिल रहे है, आज कच्ची वस्तुए शहर से ग्रामीण क्रय कर्ता है, गिट्टी, रेट, मुरम, सीमेंट, लोहा इन वस्तुवो से स्पष्ट भेद भाव की स्थति पैदा होती है, जयस जिला महासचिव बाबूलाल परपची ने बताया की अगर सरकार को मदद करनी ही है तो स्वच्छ मन से करे, मंगाई को देखते हुये शहरी और ग्रामीण स्तर पर पात्र धारियों को 5 लाख रूपये प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए स्वीकृति दे, ज्ञापन देते समय संगठन के अन्य कार्यकर्त्ता भी मौजद थे !

311 views0 comments